fbpx

डिप्रेशन क्या है?

इस प्रतिस्पर्धी दुनिया में, हम सभी का लक्ष्य और निशाना है, खुद को सफल बनाने के लिए, बच्चों के भविष्य के निर्माण के लिए, माता-पिता की देखभाल करने के लिए, स्थिति बनाए रखने के लिए। ये लोगों को तनावग्रस्त, अनबुझा हुआ और कभी-कभी उदास महसूस करते हैं। ऐसी दैनिक परेशानियों से लड़ने के लिए हमारी अपनी तनाव संबंधी रणनीतियां हैं।

लेकिन जब सभी घटनाओं के बीच, एक व्यक्ति उदासी महसूस करना शुरू कर देता है, और दैनिक गतिविधियों में अपनी रुचि खो देता है, व लंबे समय तक शरीर में ऊर्जा की कमी महसूस करता है जो की उसकी दिनचर्या और कामकाज में भी हस्तक्षेप करता है, तो यह निश्चित रूप से एक चिंता का विषय है। यदि यह 2 सप्ताह से अधिक समय तक रहता है, तो आपको डॉक्टर से जांच कराने की आवश्यकता होती है। कुछ दिनों के लिए असहज और उदास महसूस करना सामान्य मनोदशा का हिस्सा है, लेकिन दीर्घकालिक बदलावों को गंभीरता से लेना चाहिए और पेशेवरों के साथ परामर्श करना चाहिए।

निम्नलिखित अवसाद के सामान्य लक्षण जो वयस्कों में शामिल हैं: –

  • गतिविधियों में रुचि का ह्रास
  • भूख में बदलाव
  • सोने में कठिनाई, या सामान्य से अधिक नींद आना
  • थकान या ऊर्जा की कमी
  • सहकर्मियों और परिवार के साथ उत्तेजना या चिड़चिड़ापन
  • व्यर्थता, निराशा, अपराध या अपर्याप्तता की भावना
  • ध्यान केंद्रित करने या निर्णय लेने में कठिनाई
  • मृत्यु या आत्महत्या के पुनरावर्ती विचार
  • अस्पष्टीकृत दर्द

अवसाद का उपचार

अवसाद से पीड़ित व्यक्ति को अपनी स्वच्छता, दिनचर्या, परिवार के सदस्यों और सहकर्मियों के साथ संबंधों को बनाए रखने में कठिनाइयाँ होती हैं। और अक्सर अवसाद की गड़बड़ी के लिए इन्हे अपने कार्यस्थल पर काम पर आलोचना झेलनी पड़ती है।

ऐसे रोगी लोगों को, मनोचिकित्सक, मनोवैज्ञानिक, परामर्शदाता, मानसिक सामाजिक कार्यकर्ता जैसे मानसिक स्वास्थ्य पेशेवरों तक पहुंचने की सिफारिश की जाती है, क्योंकि वे उनके लिए एक उपचार टीम बनाते हैं और बीमारी के लिए दवा और चिकित्सा प्रदान करते हैं।

Call Now Button